मेरे मत की अधिकारिणी..

बीते का आंकलन करूँ
निष्कर्ष यही मैं पाता हूँ,
मेरे मत की एक अधिकारिणी
बस बीजेपी ही को पाता हूँ ||

एक समय तो बस अख़बारों में
घोटाले घूस ही पढता था,
कोई हिंसा यहाँ, कोई दंगा वहां
पढ़ पढ़कर मन ये दुखता था..
कहीं आग लगी विस्फोट हुआ
कहीं जमकर नरसंहार हुआ,
पर दिल्ली बैठी सरकारों को
न दर्द उठा न रोष हुआ..
उन सरकारों के लिए अपरिमित
घृणा से मैं भर जाता हूँ|
मेरे मत की एक अधिकारिणी
बस बीजेपी ही को पाता हूँ ||

कैसे भूलूँ मुंबई हमले
भोले लोगों को मारा था,
आतंक के कुछ आकाओं ने
इस देश को तब ललकारा था..
पर आराम पसंद नेताओं ने
घर बैठ तमाशा देखा था,
नपुंसक जन प्रतिनिधिओं की
लाचारी को हमने देखा था..
सशक्त भारत की इस भूमि पर
आज गर्व कर पाता हूँ |
मेरे मत की एक अधिकारिणी
बस बीजेपी ही को पाता हूँ ||

पुलवामा उरी के हमलों का
हमने कैसे प्रतिशोध लिया,
आतंक के घर में कदम रखा
उसे ख़त्म किया और जीत लिया..
इस विश्व को हमने जता दिया
हम झुकते नहीं अब लड़ते हैं,
घर परिवार समाज से बढ़कर
राष्ट्र प्रधान समझते हैं..
हर जन की इस भावना में मैं
ईश्वर की शक्ति पाता हूँ|
मेरे मत की एक अधिकारिणी
बस बीजेपी ही को पाता हूँ ||

अपमान सेना का और संसद का
हरदम ही होते देखा था,
अपने घर अपनी ज़मीन से
लोगों को बिछड़ते देखा था..
हिन्द संस्कृति का जन आस्था का
उन सबने कैसे दमन किया,
राम कृष्ण अपमानित होते
न्यायालयों में देखा था..
देश हित राष्ट्र गौरव को अब
दांव पे नहीं लगता हूँ|
मेरे मत की एक अधिकारिणी
बस बीजेपी ही को पाता हूँ ||

भ्रष्टाचार से त्रस्त राष्ट्र को
निर्मल नवीन सरकार मिली,
मिलावट न कोई गठबंधन की
जन बहुमत की स्वच्छ सरकार मिली..
दीप जला आस्था संस्कृति का
विकास का फिर संकल्प हुआ,
विश्व ने देखा हमने जाना
संकल्प कैसे वो सिद्ध हुआ..
सेवा समर्पित ये सरकार
गंवाना नहीं मैं चाहता हूँ|
मेरे मत की एक अधिकारिणी
बस बीजेपी ही को पाता हूँ ||

नोटबंदी ने काले धन के
सर्प का फन ही कुचल दिया,
एक राष्ट्र एक टैक्स नीति ने
कर व्यवस्था को फिर बदल दिया..
संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा परिषद्
का हमने नेतृत्व किया
भारत भी अब विश्व शक्ति है
हर मन को ये विश्वास दिया..
दृढ़ होते भारत को देख
बार बार हर्षाता हूँ|
मेरे मत की एक अधिकारिणी
बस बीजेपी ही को पाता हूँ ||

सड़कों पे सोते लोगों को
छतें मिलीं आवास मिले,
घर घर में बिजली पहुंची तब
अंधकार में रोशन दीप जले..
स्वास्थ्य बीमा से फसल बीमा से
जन जन में नव विश्वास जगा,
खातों को आधार से जोड़ा
तब बिचौलियों का नाश हुआ..
भारत के प्रगति पथ पर अब
बाधा कोई न चाहता हूँ|
मेरे मत की एक अधिकारिणी
बस बीजेपी ही को पाता हूँ ||

राइफलें मिलीं राफेल मिला
अटल टनल निर्माण हुआ,
बुलेट प्रूफ जैकेट मिलने से
सैन्य बल विस्तार हुआ..
कश्मीर हमारा पूर्ण हमारा
विश्व को यही जताना था,
कब से था नासूर बना वो
तीन सौ सत्तर हटाना था..
पडोसी फिर नापाक जले
मैं फूला नहीं समाता हूँ|
मेरे मत की एक अधिकारिणी
बस बीजेपी ही को पाता हूँ ||

आयुष्मान उज्ज्वला उड़ान
या किसान सम्मान निधि,
हर नीति ने खुशहाली की
भारत वर्ष में नींव रखी..
स्वउद्योग लगा भारत में
स्वरोजगार फिर सृजित करें,
स्वावलम्बी अब बनें युवा
हर गांव नगर में ललक जगी..
आत्मनिर्भर भारत का सपना
साकार मैं जीना चाहता हूँ|
मेरे मत की एक अधिकारिणी
बस बीजेपी ही को पाता हूँ ||

चीन में जन्मे कोरोना ने
विश्व को पूरे हिला दिया,
अपने घर वैक्सीन बनाकर
हमने परचम लहरा दिया..
नव भारत का है ये नवयुग
खोया सम्मान दिलाएगा,
सुदृढ़ समृद्ध और शक्ति से
अब भारत बढ़ता जायेगा..
नहीं रुके ये नहीं झुके
मैं गीत बस यही गाता हूँ |
मेरे मत की एक अधिकारिणी
बस बीजेपी ही को पाता हूँ ||

यात्रा विकास की शुरू हुई हमें
दूर तलक अभी जाना है,
पुनः विश्व गुरु बनने से पहले
ठहर कहीं न जाना है..
हैं अनगिनत प्रतिनिधि यहाँ
और अनगिनत संगठन यहाँ,
पर सबको साथ ले बढे चले
राजसंघ है ऐसा और कहाँ..
शुद्ध हो रही राजनीति में
कलंक न कोई अब चाहता हूँ|
मेरे मत की एक अधिकारिणी
बस बीजेपी ही को पाता हूँ ||

बीते का आंकलन करूँ
निष्कर्ष यही मैं पाता हूँ,
मेरे मत की एक अधिकारिणी
बस बीजेपी ही को पाता हूँ ||

– मंजुसुत ईशांश

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s